मुझे तू याद आती है


सुलगते दिन ठिठुरती रातों में

बैठे बैठे यूँ ही यादों में,

जाने अनजाने लोगों से मुलाकातों में,

किसी की प्यार भरी बातों में,

मुझे तू याद आती है।


3088867-clouds_composing_dream_fairy-tales_fantasy_lonely_mood_mystical_nature_rainbow_sky_tree.jpg


मेरे सितारों की गर्दिश में,

मन के तारों की बंदिश में,

किसी चेहरे की कशिश में,

कुछ भुलाने की कोशिश में,

मुझे तू याद आती है।


ज़िन्दगी की इस थकान में,  सूने से इस मकान में,  दिल के हर अरमान में,  ज़ज़्बातों के तूफ़ान में,  तू मुझे याद आती है।


ज़िन्दगी की इस थकान में,

सूने से इस मकान में,

ज़ज़्बातों के तूफ़ान में,

दिल के हर अरमान में,

मुझे तू याद आती है।


lady-dipak-roy


आंगन की हवा की सरसराहट में,

किसी अनजाने के आने की आहट में,

किसी बुत के चेहरे की बनावट में,

किसी लब की थरथराहट में,

मुझे तू याद आती है।


images (2).jpg

ग़म की हर एक आह में,
दरख्तों की चुभती छाँह में,
मेरे शहर की बंज़र राह में,
तुझे फिर से पाने की चाह में ,
मुझे तू याद आती है।

images (3)


दर्द ए दिल के गुबार में,
जाती हुई बहार में,
किसी शायर के अशार में,
तेरे लौट आने के इंतज़ार में,
मुझे तू याद आती है।

-मुसाफिर